रोजाना 15 मिनट इस काम को करने से 60 के बाद भी चेहरा दिखेगा जवां, नहीं आएगी झुर्रियां

आमतौर पर अभिनेत्रियों की बेदाग त्वचा को देखकर हम उनके ब्यूटी रूटीन को फॉलो करने लगते हैं। हालाँकि, अभिनेत्री न केवल त्वचा देखभाल की दिनचर्या का पालन करती है, बल्कि कुछ अन्य चीजें भी करती हैं जो उनकी त्वचा को चमकदार और युवा बनाए रखने में मदद करती हैं। इन्हीं में से एक है मेडिटेशन, जो त्वचा के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। रोजाना थोड़ी देर मेडिटेशन करने से आपकी त्वचा की चमक बढ़ती है।

बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियां ऐसी हैं जिन्हें मेडिटेशन बहुत असरदार लगता है। इतना ही नहीं वह दिन भर तरोताजा और खुश रहने के लिए रोजाना 15 से 20 मिनट मेडिटेशन करते हैं। त्वचा को चमकदार और जवां बनाए रखने के लिए मेडिटेशन कई तरह से काम करता है। यह आपकी त्वचा को कोमल बनाए रखने में मदद करता है। साथ ही यह आपकी खूबसूरती को बढ़ाता है और आपके मूड को भी ठीक रखता है।

आप अपना खुद का समय निर्धारित करके ध्यान कर सकते हैं। पहले तो यह आपको उबाऊ लग सकता है, लेकिन एक बार जब आप इसकी आदत डाल लेंगे तो आप बेहतर महसूस करेंगे। वहीं मेडिटेशन के सिर्फ एक ही नहीं बल्कि कई फायदे हैं।

चेहरे पर नहीं आएगा बुढ़ापा: 

प्रतिदिन कुछ मिनट ध्यान करने से शरीर को ऊर्जा मिलती है, जिससे व्यक्ति तनावमुक्त और शांत महसूस करता है। ध्यान के दौरान, आपके शरीर के ऊतकों और कोशिकाओं की मरम्मत में मदद मिलती है, जिससे त्वचा चमकदार और ताजा दिखती है। वहीं, ध्यान करते समय त्वचा को ऑक्सीजन मिलता है, जो सेलुलर स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए महत्वपूर्ण है। इतना ही नहीं, ऑक्सीजन त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करता है। यह त्वचा की रंगत को ठीक करता है और झुर्रियों को कम करता है। उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करने का यह सबसे अच्छा तरीका है।

मिनटों में दूर किया जा सकता है तनाव:

तनाव को हल्के में लेना सबसे बड़ी भूल हो सकती है। यह न सिर्फ आपकी खूबसूरती को खराब करता है बल्कि 50 बीमारियों को भी शुरू कर देता है। विशेषज्ञ अक्सर इससे बचने की सलाह देते हैं। इतना ही नहीं अगर तनाव क्रोनिक स्तर तक पहुंच जाए तो त्वचा की कई समस्याएं एक साथ शुरू हो सकती हैं। इससे आपकी त्वचा की बाहरी परत कमजोर हो जाती है, जिससे मुहांसे, फुंसियां ​​और उम्र बढ़ने लगती है। इस स्थिति पर काबू पाने में मेडिटेशन बहुत फायदेमंद हो सकता है।

प्रतिदिन कितनी देर ध्यान करना चाहिए?

ध्यान किसी भी उम्र में शुरू किया जा सकता है। आजकल बच्चों को भी ध्यान करने की सलाह दी जाती है। यह उनके शारीरिक और मानसिक विकास के लिए फायदेमंद बताया जाता है। तो आप इसे कभी भी शुरू कर सकते हैं। शुरुआत में 10 मिनट करें और फिर समय बढ़ा दें। आप चाहें तो इसे 2 या 3 सेशन में बांट सकते हैं। शुरुआत में थोड़े समय के साथ शुरुआत करें ताकि एकाग्र होने में दिक्कत न हो।

संगीत के साथ ध्यान कर सकते हैं:

आजकल ध्यान करने का तरीका बहुत बदल गया है। लोग अपनी सुविधा के अनुसार अलग-अलग ध्यान की तकनीक आजमाते हैं। हालांकि, अगर आपको ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होती है, तो आप संगीत की मदद ले सकते हैं। दरअसल, यह इन दिनों लोगों के बीच काफी लोकप्रिय है। तनाव दूर करने और त्वचा को जवां बनाए रखने के लिए यह तरीका काफी फायदेमंद है। लगातार अपनी पसंद की धुन सुनने से आपकी त्वचा और शरीर दोनों को आराम मिलेगा।